Uncategorized

आश्रम छात्रवास एवम फोटाकेबिन जैसे आवासीय संस्थाओं में अब बच्चे मोबाइल नही रख सकते निर्देश जारी

आश्रम, छात्रावास एवं पोटाकेबिन जैसे आवासीय संस्थाओं की व्यवस्था को सुधारने कलेक्टर ने ली बैठक

आवासीय संस्थाओं में बच्चे मोबाईल न रखे इसका कड़ाई से पालन हो -कलेक्टर
बीजापुर – कलेक्टर श्री राजेन्द्र कुमार कटारा ने जिला कार्यालय में जिले के समस्त आवासीय संस्थान आश्रम, छात्रावास एवं पोटाकेबिन के अधीक्षक, प्रभारी, नर्स एवं मंडल संयोजक का संयुक्त रूप से बैठक लेकर संस्थाओं में आवश्यक सुधार लाने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने कहा कि मोबाईल फोन के उपयोग से बच्चों को बचाएं और संस्थाओं में बच्चे मोबाईल लेकर न आए इसका कड़ाई से पालन सुनिश्चित करने के निर्देश दिए अगर बच्चों को अपने पालकों से या किसी आवश्यक कारणों से संपर्क करना है तो अधीक्षक के मोबाईल का उपयोग करें। आवासीय संस्थाओं मे पदस्थ कर्मचारी अधीक्षक, भृत्य एवं चौकीदार संस्था में अनिवार्य रूप से रहे, संस्थाओं में बुनियादी सुविधाओं , दैनिक जरूरतों के समान की उपलब्धता पर्याप्त रूप से रखने के निर्देश दिए। बारिश के मौसम को मद्देनजर रखते हुए संक्रामक बीमारियों के रोकथाम एवं उपचार समुचित ढंग से करने नियमित रूप से स्वास्थ्य जांच हो। वहीं दवाईयों का पर्याप्त स्टाक रखने एवं एक्सपायरी दवाईयों को डिस्पोज करने के निर्देश दिए। बच्चों को अनुकूल वातावरण प्रदान करने सभी आवश्यक उपाय अमल में लाने के निर्देश दिए। बच्चों में सामूहित गतिविधियों एवं सामूहिक जिम्मेदारियों का भी निर्वहन कराएं ताकि एक दूसरे की मदद के लिए बच्चे तत्पर रहे। आश्रम, पोटाकेबिन, छात्रावास की समस्त गतिविधियों से उनके पालकों को अवगत कराए। बच्चों का मलेरिया जांच, मच्छरदानी का नियमित उपयोग, परिसर के खाली जगहो पर किचन गार्डन बनाने, साग-सब्जी लगाने के निर्देश दिए। बैठक में सहायक आयुक्त आदिवासी विकास श्री केएस मसराम, जिला शिक्षा अधिकारी श्री बीआर बघेल, जिला परियोजना समन्वय समग्र शिक्षा श्री विजेन्द्र राठौर उपस्थित थे।

IMG 20230804 WA0104 Console Corptech
IMG 20230804 WA0102 Console Corptech

Related Articles

Back to top button